जानें ग्रीन टी, पीने का फायदा और सही समय और सावधानियां ।

कई लोग दिन की शुरूआत ग्रीन टी से करते हैं। वहीं, कई लोग इसे नेचुरल डिटॉक्सर की तरह सुबह खाली पेट पीते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि खाली पेट ग्रीन टी पीना सभी को डाइजेस्ट नहीं होता। ऐसे में दूसरों को देखकर ग्रीन टी पीने से पहले आपको इसके फायदे और पीने का सही समय जान लेना चाहिए-

ग्रीन टी के गुण
स्किन इंफेक्शन से बचाव
स्किन के डैमेज सेल्स की भरपाई करने वाले एंटीऑक्सीडेंट्स ग्रीन टी में प्रचुरता में होते हैं। त्वचा की सूजन कम होती है, कसाव बना रहता है और मुहांसे कम होते हैं

वजन कम करने में मदद
ग्रीन-टी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, मेटाबॉलिज्म को तेज करते हैं। वसा तेजी से कम होती है। ग्रीन टी पीने के बाद व्यायाम करने से फैट ऑक्सीडेशन बढ़ता है, जो मोटापे को बढ़ने से रोकता है। हालांकि व्यायाम और खान-पान पर भी ध्यान देना जरूरी है।

कैंसर से बचाव
इसमें मौजूद पॉलीफिनॉल्स, ट्यूमर और कैंसर सेल्स रोकने का काम करते हैं। ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर की रोकथाम में भी मदद मिलती है।

धमनियां रखें स्वस्थ
नियमित सेवन से धमनियों की ब्लॉकेज दूर रखने में मदद मिलती है। शरीर में बुरे कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है।

मानसिक सेहत
कैफीन मस्तिष्क के लिए अवरोधक न्यूरोट्रांसमीटर की गतिविधि को रोकता है। याददाश्त ठीक रहती है। इसमें मौजूद एमिनो एसिड, दिमाग के केमिकल मैसेंजर गाबा के स्तर में सुधार करता है, जो तनाव को कम रखता है।

कब पिएं ग्रीन टी और क्या है सावधानियां
खाना खाने से कम से कम एक घंटे पहले इसे पिएं। इसमें टैनिन होता है, खाने से तुरंत पहले इसे पीने से पेट-दर्द, मिचली, या कब्ज जैसी दिक्कतें हो सकती हैं। सुबह खाली पेट पीने से बचें। साथ में कुछ जरूर खाएं। दिनभर में तीन कप से अधिक न पिएं, डिहाइड्रेशन हो सकता है। ज्यादा कैफीन से अनिद्रा, पेट की खराबी, उलटी, दस्त व पेशाब की समस्या हो सकती है। इसलिए सोने से तुरंत पहले ग्रीन टी न पिएं।

दूध या चीनी का प्रयोग न करें।
सुबह और शाम का समय ग्रीन टी के लिए सही है। इससे मेटाबॉलिज्म को सक्रिय करने में मदद मिलती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here